पलायन हेतु दबाब


मजदूरों का पलायन मुख्यतः इसी वर्ग संघर्ष और कई प्रकार के पूर्वाग्रह का परिणाम है|

विश्व-बंदी १३ मई


पिछले एक माह में में प्रवासी मजदूरों का अपने जन्मस्थानों की तरफ़ लौटने की बातें सामने आई हैं| मगर अन्य लोग भी विचार कर रहे हैं|