गहराना: पुनरावलोकन 2016

गहराना – विचार वेदना की गहराई मध्यम गति से पाठकों को भला लगने लगा है| पिछले वर्ष के तीन  हजार से बढ़कर इस वर्ष साढ़े चार हजार पाठकों ने इसे पढ़ा| पिछले वर्ष इसके चार हजार पृष्ठों के बदले इस वर्ष आठ हजार पृष्ठ पढ़े गए| गहराना के आधे पाठक भारत और लगभग आधे यूनाइटेड स्टेट्स से आते हैं| ब्लॉग पर 274 ब्लॉग पोस्ट में से 74 इस वर्ष प्रकाशित हुई|

Advertisements

कृपया, अपने बहुमूल्य विचार यहाँ अवश्य लिखें...

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s